हर जनम में भैरव तेरा साथ चाहिए जैन भजन लिरिक्स | Har Janam Me Bhairav Tera Sath Chahiye Jain Bhajan Lyrics

हर जनम में भैरव तेरा साथ चाहिए जैन भजन लिरिक्स
Har Janam Me Bhairav Tera Saath Chahiye Jain Bhajan Lyrics


हर जनम में भैरव तेरा साथ चाहिए,
सर पे मेरे दादा तेरा हाथ चाहिए ।
सिलसिला ये टूटना नहीं चाहिए,
मुझको तो बस इतनी सी सौगात चाहिए ॥
हर जनम में भैरव तेरा साथ चाहिए..

मेरी आंखों के तुम तो तारे हो,
जान से ज्यादा मुझे प्यारे हो ।
रूठे सारी दुनिया, तुम रूठना नहीं,
मुझको तेरे प्यार की बरसात चाहिए ॥
हर जनम में भैरव तेरा साथ चाहिए..


मुझपे तेरी कृपा ये कम ना हैं,
फिर भी छोटी सी एक तमन्ना है ।
मर ना जाये दादा तुम्हे याद करके,
जीते जी एक तुमसे मुलाकात चाहिए ॥
हर जनम में भैरव तेरा साथ चाहिए..

मेरी दुनिया को तुम बसाये हो,
मेरी सांसो में तुम समाये हो ।
दिन में साथ साथ तुम रहो मेरे,
सपनो में आते रहो, वो रात चाहिए ॥
हर जनम में भैरव तेरा साथ चाहिए..

Youtube Video


और भी ऐसे ही मधुर भजनों की लिरिक्स के लिए हमारी वेबसाइट को विजिट करते रहे|
इस भजन को आप अपने मित्रगणों के साथ शेयर करिए|
यदि आप भी हमें कोई भजन या अन्य उपयोगी सामग्री भेजना चाहे नीचे दिए गए बटन का प्रयोग करे|
|| आप को marvadibhajan.com की और से सादर जय सियाराम ||

Blogger द्वारा संचालित.